सार व्हॅल्यू क्या होती है


 जब आप अपने मोबाइल फोन से इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं या फोन से एसएमएस या कॉल कर दें तो सारा कम्युनिकेशन करने के लिए एक प्रकार की इलेक्ट्रोमैग्नेटिक वेव्स की जरूरत पड़ती है फोन से निकलने वाले सिगनल्स को भेजने के लिए इलेक्ट्रोमैग्नेटिक वेव्स की जरूरत होती है जिसकी मदद से इलेक्ट्रोमैग्नेट्स वेव्स का आगमन ट्रांसमिशन होता है जबभी कोई ट्रांसमिशन होता है सिग्नल अपने लक्ष्य की ओर 100% पावर के साथ चलता है लेकिन लक्ष्य तक पहुंचे वह सिग्नल की पावर 10 से 20% कम हो जाती है और वातावरण में रिडियट हो जाती है ऐसा इसलिए होता है क्योंकि सिग्नल को एक जगह से दूसरी जगह ट्रैवल करने के लिए कुछ पावर की आवश्यकता होती है ऐसा सिर्फ किसी सिग्नल को भेजते वक्त नहीं बल्कि को प्राप्त करते वक्त भी होता है स्मार्टफोन से निकलने वाली इलेक्ट्रोमैग्नेटिक वेव्स को मोबाइल रेडिएशन कहते हैं मोबाइल रेडिएशन मोबाइल के यूजर्स पर डिपेंड करता है आप जितना अधिक अपने फोन को इस्तेमाल करेंगे अधिक रेडिएशन उत्पन्न होगा और जितना कम अपने फोन को इस्तेमाल करेंगे उतना कम प्रेडेशन रेडिएशन को कंट्रोल करने के लिए सार वैल्यू का इस्तेमाल किया जाता है ।

एक टिप्पणी भेजें

© NGS VARWADE. All rights reserved.